पुलिया के मुहाना को बंद करने से कई गांवों में घुसा पानी, सैकड़ो एकड़ में लगाए गए धान के फसल बर्बाद

सत्यनारायण यादव कि रिपोर्ट

बिस्फी (मधुबनी): नाहस रुपौली गांव से गुजरती हुई सरकारी नाला को अतिक्रमण कर एवं पुलिया के मुहाना को बंद कर दिए जाने से नाहस रुपौली उत्तरी पंचायत के कई गांवो में पानी घुस गया है।साथ ही सैकड़ो एकड़ में लगाए गए धान के फसल भी बर्बाद होने के कगार पर है।यह सरकारी नाला बेनीपट्टी के भदुली गांव से निकल कर सोहांस ,केरवाड़ ,गेनौर ,रुपौली ,नाहस पुरवारी टोल ,दुलहा गांव होते हुए बांका गांव स्थित किंग्स कैनाल में मिलता है।जिसे गांव के ही कुछ दबंग लोगो के द्वारा अतिक्रमण कर और पुलिया के मुहाना को बंद कर दी गई है।

इस संदर्भ में नाहस रुपौली उत्तरी पंचायत के मुखिया सह प्रखंड मुखिया संघ के अध्यक्ष गंगानाथ झा ने सीओ बिस्फी को एक लिखित आवेदन देकर नाला को अतिक्रमण से मुक्त कराने व उराही कराये जाने की मांग की है।दिए गए आवेदनों में उन्होंने कहा है कि उक्त नाले को रुपौली गांव से पश्चिम नाहस पुरवारी के नवटोली में अतिक्रमित कर पुलिया के मुहान जाम कर दिया गया है।जिससे रुपौली के अनुसूचित जाति टोल ,मल्लाह टोल ,गेनौर के ततमा टोल ,चभच्चा ,मोईन टोल के अधिकांश लोगो के घर-आंगन में पानी फ़ैल गया है।

किसानों के द्वारा रोपे गए धान के बिचड़े लगभग सैकड़ो एकड़ में डूब चुके है।जिससे किसान चिंतित है।उन्होंने सीओ से अविलंब इसे अतिक्रमण से मुक्त कराने की मांग की है।जिससे की पानी का वहाव हो सके।इस संदर्भ में सीओ प्रभात कुमार ने बताया कि अविलंब इसे जांच कराकर अतिक्रमण से मुक्त करायी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!