दिन भर होती रही बारिश, मोहल्लों में लगा पानी गांवो मे किसान परेशान

मधुबनी : बेमौसम बारिश से ग्रामीण व शहर के कई मोहल्लों एंव खेतो में शुक्रवार को जलजमाव हो गया। दिन व रात में रुक-रुक कर बारिश होने से ग्रामीण व शहर के अधिकांश सड़कों पर कीचड़ से फिसलन बढ़ गया और किसानों के मूंग की फसल मे पानी लगने से खराब होने का सताने लगा है। मधवापुर,बासोपट्टी एंव हरलाखी के सडक़ पर चलना दुर्लभ हो गया है।
कई जगहों पर कीचड़ लग गया है। वहीं सुबह से ही दिन व रात भर टीप -टिप बारिश होने से लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत मिली है।कोविड संक्रमण काल में शहर की सफाई अच्छी तरह से नहीं होने से संक्रमण का खतरा बढ़ने की संभावना रहती है।

इस बारिश से आम व लीची की फसल को फायदा होने की संभावना है। किसानों को खेत में धान का बीज गिराने में सुविधा होगी। लेकीन मूंग दाल को जरूर नुकसान पहुचा रहा है।मौसम विभाग द्वारा 23 मई तक के मौसम पूर्वानुमान में कहा गया है कि उत्तर बिहार के जिलों में आसमान में हल्के से मध्यम बादल छाये रह सकते हैं। बारिश होने की संभावना भी है।

मौसम के मेहरबानी से वनस्पति सहित सभी प्राणियों को राहत मिली है। कृषि विशेषज्ञ संजीव झा ने बताया कि गर्मा मौसम के वर्षा जल से आम एवं लीची के डंठल मजबूत होने के साथ फल का विकास बेहतर होगा।लतर वाली सब्जी कद्दू, परवल, लौकी,खीरा, भिण्डी,बैगन, नेनुआ, करैला एवं चारे फसल के पौधे में फूल एवं फल तेजी से बढेंगे। फसल लगी हुई खेतों में पानी जमा होने से पौधे के गलन में वृद्धि होगी।पौधे में फल लगने की प्रि?या धीमा हो सकता है।मिट्टी में अधिक मात्रा में नमी होने से सब्जी एवं गर्मा मूंग की फसल पर फफूंद एवं कीटों का प्रकोप बढ़ेगा। हरलाखी के उमगांव की बारिश नें शूरत ही बदल दिया वही बासोपट्टी बाजार और मैन सडक़ पर चलना कठीनाई का सामना बना है ।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: