समदा और देपुरा में घर आग लगने से लाखों की संपति जलकर खाक

बेनीपट्टी: स्थानीय थाना के समदा और देपुरा गांव में दो अलग-अलग जगहों पर बीती रात घर में आग लग जाने से लाखों की संपत्ति जलकर खाक हो गयी. मिली जानकारी के अनुसार पहली घटना समदा पंचायत के वार्ड नौ स्थित समदा गांव की है. जहां रामप्रीत साह के घर में आग लगने से तीन घर सहित लाखों की संपति जलकर खाक हो गयी. बताया जा रहा है

फोटोः- बेनीपट्टी के समदा गांव में अगलगी की घटना के बाद जलकर नष्ट घर और सामान

कि दीपावली की रात दीप जलाकर सभी लोग सो गये थे. रविवार की अहले सुबह तीन से चार बजे के आस-पास दीप से एक घर में आग पकड़ लिया. जब तक घर के लोगों को पता चला तब तक आग ने विकराल रूप धारण कर लिया. अगलगी की इस घटना में एक साथ एक दूसरे से सटे दो अन्य घरों को भी आग की लपटों ने अपने आगोश में ले लिया. आग की लपटे देख परिजन और पड़ोस के लोगों ने शोर मचाना शुरू किया,

ADVERTISEMENT

जहां बगल के पक्का-एस्बेस्टस घर में सोये हुए सभी लोग जगे और ग्रामीणों के सहयोग से आग बुझाने के प्रयास में लग गये. इधर घटना की सूचना अग्निशमन विभाग को दी गयी, लेकिन काफी समय तक अग्निशमन वाहन नही पहुंच सकी थी. ग्रामीणों ने अपने स्तर से मोटर और दमकल लगाकर आग बुझाने में जुट गये और काफी प्रयास के बाद आग पर काबू पाया जा सका. लेकिन जब तक आग बुझाया गया तब तक घर में रखा सब कुछ जलकर खाक हो गया था.

ADVERTISEMENT

हालांकि किसी के जान माल की क्षति नही होने की जानकारी मिली है. गृहस्वामी ने इस संबंध में बेनीपट्टी थाना और सीओ को आवेदन देकर आर्थिक सहायता की गुहार लगायी है. जिसमें उन्होंने तीन घर जलने, घर में रखा अनाज, कपड़ा सहित लाखों की संपति जलकर खाक होने का उल्लेख किया है. वहीं अगलगी की दूसरी घटना बेनीपट्टी थाना के नयाटोल देपुरा गांव की है. जहां बीती रात मोस्मात बसमतिया देवी के घर में आग लग जाने से हजारों की संपत्ति जलकर राख हो गयी.

ADVERTISEMENT

मिली जानकारी के अनुसार घटना शनिवार की शाम तकरीबन 7 बजे की बतायी जा रही है. पीड़िता ने बताया कि आग कैसे लगी यह मुझे पता नही है लेकिन अचानक आग की लपटें उठने पर हम घर से बाहर निकलकर शोर मचाने लगे. शोर सुनकर आस-पास के लोग दौड़कर आये और बाल्टी के सहारे आग बुझाने में जुट गये. फूंस का घर होने के कारण आग की लपटें तेज हो गयी. घंटो तक प्रयास करने के बाद जब तक आग को बुझाया जा सका, तब तक घर में रखा अनाज,

कपड़ा, बर्तन सहित सभी सामान जलकर खाक हो गये. उन्होंने अगलगी की इस घटना में हजारों की क्षति होने की बात कही है. इस बाबत सीओ पल्लवी कुमारी गुप्ता ने बताया कि दोनों ही घटनाओं में संबंधित कर्मचारी को क्षति का आकलन कर रिपोर्ट देने को निर्देशित किया जा रहा है. जांच रिपोर्ट और क्षति आकलन प्रतिवेदन मिलने के बाद पीड़ित परिवारों को हरसंभव आर्थिक मदद की जायेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!