हरलाखी में लंबित है अतिक्रमण के कई मामले, वर्षों से नहीं हुआ निदान

कर्मियों की कमी से जरूरतमंदों को लगाना पड़ता है अंचल कार्यालय का चक्कर

सिर्फ दो राजस्व कर्मचारी से चल रहा है 17 पंचायत, अंचल में नहीं है सरकारी अमिन

हरलाखी: प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न गांव में सरकारी जमीन के अतिक्रमण का करीब आधा दर्जन से अधिक मामला वर्षो से लंबित है। अतिक्रमण खाली कराने को लेकर सभी जगह के स्थानीय लोगों के द्वारा पूर्व में ही आवेदन दिया गया है। आवेदन के उपरांत अंचल कार्यालय से अतिक्रमण मामले की जांच भी की गई और सभी अतिक्रमणकारियों को नोटिस भी भेजा गया। परंतु धीरे-धीरे सभी मामले शिथिल पड़ गए।

कहीं भी अतिक्रमण को खाली नहीं कराया गया। गौरतलब है कि हरलाखी अंचल क्षेत्र के हरसुवार, मांगपट्टी, गंगौर व विटहर गांव में सरकारी रास्ता व भवन को अतिक्रमण मुक्त कराने को लेकर ग्रामीणों ने अंचल कार्यालय में आवेदन दिया गया है। सभी मामलों में अंचलाधिकारी के द्वारा कई बार सुनवाई भी की गई है। परंतु अतिक्रमण खाली कराने को लेकर अब तक कोई ठोस पहल नहीं किया गया है।

आवेदनकर्ता प्रतिदिन कार्यालय का चक्कर लगा रहे हैं। बावजूद कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। इतना ही नहीं अंचल कार्यालय में कर्मियों की कमी के कारण स्थानीय लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। 17 पंचायत वाले इस अंचल में सिर्फ एक राजस्व कर्मचारी,

एक सीआई व एक लिपिक के सहारे कार्यालय चल रहा है। जिससे अंचल संबंधित अन्य कार्यों के लिए भी जरूरतमंदों को कार्यालय का चक्कर लगाना पड़ता है। इस बावत अंचलाधिकारी सौरभ कुमार ने बताया कि कर्मियों की कमी से वरीय अधिकारीयों को अवगत कराया जा चूका है। शीघ्र सभी मामले का निष्पादन किया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!