Corona के कारण नहीं हुआ भैरवा उगना महादेव मंदिर में जलाभिषेक

  • इस बार श्रावण की प्रथम सोमवारी को पूर्णतःकोरोना की भेंट चढ़ गया उगना महादेव मंदिर।
  • छः सौ वर्षों पूर्व कवि कोकिल बाबा विद्यापति द्वारा स्थापित एवं पुजित उगना महादेव मंदिर।
कोरोना के वजह से सुनसान पड़ा भैरवा स्थित उगना महादेव मंदिर

सत्यनारायण यादव की रिपोर्ट।

बिस्फी (मधुबनी): मिथिला के प्रसिद्ध भैरवा स्थित शिवालय जो छः सौ वर्ष पूर्व कवि कोकिल बाबा विद्यापति द्वारा स्थापित एवं पुजित माना जाता हैं।इस बार श्रावण की प्रथम सोमवारी को पूर्णतः कोरोना की भेंट चढ़ गया।प्रशासन द्वारा इस बार यहां जलाभिषेक कार्य पर पूर्णतः रोक लगा दिया गया है।विगत पचीस-तीस वर्षों से यहां जलाभिषेक कार्य शांति रूप से कराने हेतु जिला प्रशासन की देख-रेख में होता रहा है। आज प्रथम सोमवारी तक यहां तीन बार जिला समाहर्ता आ चुके होते थे।

इस बार महज़ दो सहायक अवर निरीक्षक शिवालय परिसर में मौजूद रहकर जलाभिषेक करने आये हुए शिवभक्तों को लौटाते हुए देखें गए।लोग भी प्रशासन की बात को स्वीकार करते हुए यहां जलाभिषेक कार्य करने से अपने आप को अलग रखा। वहीं मंदिर परिसर मेंं विधि व्यवस्था को लेकर मेला कमिटी के अध्यक्ष सुशील कुमार यादव भी प्रशासनिक अधिकारियों के द्वारा लिए गए निर्णय का सहयोग करते हुए मौजूद थे।

भैरवा उगना मंदिर परिसर में मौजूद पुलिसकर्मी

वैसे ग्रामीण क्षेत्र सिंगिया स्थित श्रृंगी अस्थान में चहुटा, जगबन, धजबा, भौजपंडौल व सिमरी सहित अन्य जगहों पर आज़ शिवालयों में सोशल डिस्टेंसिग का पालन कर जलाभिषेक कार्य करते हुए देखें गए। बहुत से लोग जलाभिषेक कार्य अपने घरों पर ही सम्पन्न किए। वैसे एसडीएम मुकेश रंजन, डीएसपी अरुण कुमार सिंह, सीओ प्रभात कुमार, बीडीओ अहमर अब्दाली, बिस्फी एसएचओ उमेश पासवान, पतौना ओपी एसएचओ बिजय पासवान, औंसी ओपी एसएचओ कुणाल कुमार भी प्रखंड क्षेत्र में भ्रमण करते हुए देखें गये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!