कोरोना का कहर : मिथिला के प्रसिद्ध उगना महादेव मंदिर में नहीं होगा सामूहिक जलाभिषेक

कोरोना महामारी के कारण प्रसिद्ध उगना महादेव मंदिर पर पहली बार नहीं होगा जलाभिषेक

सत्यनारायण यादव की रिपोर्ट

बिस्फी : प्रखंड क्षेत्र के भैरवा गांव स्थित उगना महादेव मंदिर में श्रावण में सामूहिक जलाभिषेक नहीं होगा. शायद ऐसा पहली बार हो रहा है जंहा कोरोना महामारी के कारण उगना महादेव मंदिर पर जलाभिषेक नहीं होगा. यहां न तो मेला लगेगा न ही जलाभिषेक होगा. कांवर यात्रा भी नहीं निकाली जाएगी. आपको बताते चलें कि बीते सोमवार को प्रखंड मुख्यालय स्थित टीपीसी भवन में कोरोना संक्रमण को लेकर मंदिर कमेटी एवं प्रशासन के बीच सर्वसम्मति से सामुहिक जलाभिषेक नहीं करने का फैसला लिया गया.

एसडीओ मुकेश रंजन ने मंदिर में सभी तरह की गतिविधियों पर रोक लगा दी है. सिर्फ मंदिर के पुजारी ही महादेव का जलाभिषेक करेंगे. एसडीओ मुकेश रंजन व एसडीपीओ अरुण कुमार सिंह और मंदिर कमेटी के अध्यक्ष सुशील कुमार यादव के द्वारा संयुक्त रुप से बैठक में निर्णय लिया गया. मेला कमेटी के अध्यक्ष सुशील कुमार यादव ने कहा कि मानव का अस्तित्व बचा रहेगा तभी धर्म की रक्षा हो सकती है. श्री यादव ने कोरोना के रूप में आए अभूतपूर्व संकट के समय लोगों से अपना बचाव स्वयंग करने की अपील की है. उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस संकट गंभीर है ऐसी स्थिति में सतर्कता ही बचाव का एकमात्र उपाय है.

आपको बताते चलें कि कवि कोकिल विद्यापति की धरती बिस्फी के भैरवा गांव में प्रसिद्ध उगना महादेव मंदिर पर श्रावण मे लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं ने जलाभिषेक करते थे. यहां श्रावणी मेला में पुरे प्रखंड क्षेत्र में वातावरण भक्तिमय से सरोवर होकर बाबा उगना महादेव पर जलाभिषेक करने वाले लोगों की सेवा में लगे रहते थे. मगर कोरोना संक्रमण को लेकर पहली बार उगना महादेव पर जलाभिषेक नहीं करने का निर्णय लिया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!