लगातार हो रही बारिश से सड़के झील में तब्दील, बढ़ी परेशानी

साहरघाट में रामजानकी चौक चौक पर लगा जलजमाव

बेनीपट्टी(मधुबनी) :अनुमंडल के अधिकांश इलाकों में पिछले तीन दिनों से रुक-रुक कर हो रही झमाझम बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त है. प्रशासनिक चेतावनी के कारण पूरे दिन लोग अपने घरों में दुबके रहने को मजबूर हैं. सड़कों पर बेहद ही कम संख्या में वाहनों का परिचालन हुआ. अतिआवश्यक कार्यों से ही लोग घर से बाहर निकले. लगातार बारिश से बार फिर से विभिन्न चौक चौराहों पर घुटने भर जलजमाव हो गया है.

मुख्यालय सहित कई ग्रामीण सड़कों पर झील का नजारा देखा जा सकता है. मुख्यालय की मुख्य सड़क के अलावे, बसैठ चौक, साहरघाट के रामजानकी चौक, साहरघाट के हीरो एजेंसी के निकट से नेताजी चौक तक, नेताजी चौक से अंसारी चौक सहित अन्य चौक चौराहे भी झील के शक्ल में तब्दील हो चुका है. साहरघाट से बौरहर तक जानेवाली सड़कों पर यातायात ठप हो चुका है. इस सड़क पर हजारों गड्ढे पानी से भरे दुर्घटना को आमंत्रण दे रहा है. कई बाइक चालक इसमें दुर्घटना का शिकार हो चुके हैं. जिससे लोगों के आवागमन में भारी फजीहत झेलनी पड़ रही है.

बता दें कि इन चौक चौराहे पर गड्ढे उग आने के कारण अब धीरे-धीरे छोटा तालाब का शक्ल ले रहा है. बसैठ चौक की तो जलाशय में तब्दील रहना मानो नियति बन चुकी है तो दूसरी ओर साहरघाट बौरहर रोड से ऐसे समय में आवाजाही करना पांव पैदल दिल्ली जाने के समान प्रतीत होता है. अधिकांश सड़कों के निकट नाला नही रहने या फिर पुराने नाले को जाम रहने के कारण जल निकासी नही हो पाने के कारण ही बरसात में जलजमाव की सड़ांध से आम लोगों का जीना मुहाल हो जाता है.

लोगों ने कहा कि प्रशासनिक लापरवाही के कारण लोगों को जलजमाव की समस्या से जूझने की विवशता बनी है. जलजमाव की समस्या को लेकर स्थानीय प्रशासन और सरकार से कई बार पत्राचार कर समस्या से निजात दिलाने की मांग किया जा चुका है. लेकिन अब तक कोई पहल नही किया जा सका है. उधर अधिकांश ग्रामीण सडकें कीचड़मय होने से आवाजाही में लोगों को परेशानी झेलनी पड़ रही है. इस बाबत एसडीएम मुकेश रंजन ने बताया कि मरम्मति करने हेतु विभागीय अधिकारी को लिखा
जायेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!