BENIPATTI : रानीपुर में कोविड जांच रिपोर्ट के लगातार बदलने से भ्रम में लोग

ग्रामीणों ने थाने को आवेदन देकर मामले की जांच की लगायी गुहार

बेनीपट्टी : प्रखंड में चल रहे कोविड जांच रिपोर्ट से कई ग्रामीण इलाकों के लोग असमंजस में है और असहज स्थिति का सामना कर रहे हैं. लगातार जांच रिपोर्ट बदलने के मैसेज से बसैठ पंचायत के रानीपुर गांव में दहशत का माहौल बन गया है. बता दें कि बेनीपट्टी पीएचसी के द्वारा बीते 5 जून को रानीपुर गांव में टीकाकरण व कोविड-19 की जांच के लिये टीम को भेजा था. गांव के प्राथमिक विद्यालय में लोगों की कोविड जांच की गयी और दिन के करीब 01 बजे तक 12 लोगों की कोविड-19 की एंटीजन जांच हुई, जिसमें नौ लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी. जिसके कारण इन नौ लोगों को वेक्सिनेशन नहीं हो सका.

ADVERTISEMENT

वहीं, देर शाम होते ही फिर उन सभी लोगों के मोबाइल पर निगेटिव रिपोर्ट का मैसेज आ गया. वहीं पॉजिटिव हुए संझरी देवी के पुत्र चंद्र नारायन झा ने बताया कि पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद विभाग के द्वारा आशा कार्यकर्ता के माध्यम से पीएचसी प्रबंधन के द्वारा कुछ दवा भी भेज दी गयी. उधर, एक साथ नौ लोगों के पॉजिटिव आने के बाद पूरे गांव में हड़कंप मच गया. पोजेटिव रिपोर्ट आम होने से पॉजिटिव रिपोर्ट आनेवाले परिवार से गांव के लोग दूरी बना लिये. इस तरह एक दिन में दो तरह की रिपोर्ट आने से लोग असमंजस की स्थिति में हैं और अब भी लोगों में भय बना हुआ है. इस संबंध में श्री झा ने स्वास्थ्य टीम व प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी के खिलाफ कार्रवाई के लिए थाना को आवेदन देकर जांच की गुहार लगायी है.

उन्होंने कहा कि अगर 9 लोग पोजेटिव थे तो फिर गांव को कंटेंटमेंट जोन घोषित कर एहतियातन उपाय करना चाहिये था. इसकी शिकायत करते ही सभी को नेगेटिव रिपोर्ट भेज दी गयी. इस बाबत पीएचसी के स्वास्थ्य प्रबंधक राजेश कुमार रंजन ने बताया कि एंट्री करने वाले कर्मी से एंट्री गलती हो गयी थी. जिसके कारण निगेटिव की भी रिपोर्ट चली गयी थी. इंट्री करनेवाले कर्मियों को सावधानी बरतने की सख्त हिदायत दी गयी है.

ADVERTISEMENT

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: