हरसुवार गांव में चार लोगों ने कोरोना से जीता जंग

11 तारीख को पॉजिटिव का मैसेज आए महिला भी निकली निगेटिव

हरलाखी : प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत हरसुवार गांव में करीब दस लोग कोरोना संक्रमित पाए गए थे। जिसमे एक 80 वर्षीय वृद्ध का निधन भी हो गया था। बांकी बचे नौ लोगों में अब सभी के स्वास्थ्य की स्थिति अब पहले से बेहतर बताई जा रही है। गुरुवार की सुबह स्वास्थ्य विभाग की टीम 14 दिन पूर्व पॉजिटिव हुए पांच लोगों का गांव में पहुंचकर दुबारा जांच किया। जिसमे सभी लोग कोरोना को परास्त कर चुके थे। स्वस्थ्य हुए सभी लोगों ने कोरोना के प्रति सकारात्मक बातचीत करते हुए कहा डॉक्टरों की देख रेख में अपने आपको संयमित रख कर कोरोना पर विजय पाया जा सकता है।

सभी ने कहा परिवार के लोगों से फिजिकल दुरी बनाकर दवा के अलावे घरेलु उपचार के प्रयोग से स्वस्थ्य हुए हैं। इन लोगों ने संक्रमित लोगों को कोरोना से घबराने की नहीं गंभीरता से इसका उपचार कराने की अपील भी की। वहीं इसी गांव की एक 51 वर्षीय महिला को सीएचसी से मोबाईल पर पॉजिटिव होने का मैसेज आ गया। जबकि सीएचसी में महिला को निगेटिव रिपोर्ट देकर टीका भी लगाया गया। पॉजिटिव मैसेज आने के बाद महिला के सभी परिवार वाले चार दिनों तक भय के साए में गुजारे हैं। लेकिन उसी महिला का गुरुवार को जब घर पर दुबारा जांच किया गया तो महिला निगेटिव पाई गई है। जिससे उमगांव सीएचसी के जांच प्रक्रिया पर प्रश्न चिन्ह लगने लगा है। महिला के परिवार वालों ने पॉजिटिव रिपोर्ट बनाने वाले कर्मी के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है।

ADVERTISEMENT

इस बावत सीएचसी के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी अजित कुमार सिंह ने कहा रिपोर्ट बनाने वाले कर्मी को स्पष्टीकरण किया जा रहा है। संतोषप्रद नहीं होने पर कार्रवाई की जायेगी।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: