शिक्षकों ने बिहार सरकार को विधानसभा चुनाव में सबक सिखाने का लिया संकल्प

समान काम के बदले समान वेतन नही देने से नाराज शिक्षकों ने बेनीपट्टी किया संकल्प सभा का आयोजन

बेनीपट्टी(मधुबनी)

बिहार: राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ के राज्यव्यापी आह्वान पर संघ के प्रखंड कार्यकारी अध्यक्ष मो. मकसूद आलम की अध्यक्षता में शिक्षकों ने संकल्प सभा का आयोजन किया. जिसमें शिक्षकों की मांगों के प्रति संवेदनहीन सरकार के उपेक्षापूर्ण नीति की निंदा की गयी. संकल्प सभा मे मौजूद शिक्षकों ने आगामी बिहार विधानसभा चुनाव में बिहार सरकार को सबक सिखाने का सामूहिक संकल्प लिया.

इस दौरान सभा को संबोधित करते हुए जिला उपाध्यक्ष राकेश कुमार चौधरी ने कहा कि बिहार सरकार द्वारा जारी नयी सेवा शर्त नियमावली 2020 शिक्षकों के साथ धोखा है. समान काम के बदले समान वेतन देने की बात तो दूर जारी घोषणाओं के अनुसार शिक्षकों को राज्य कर्मी का दर्जा नहीं दिया गया तथा पेंशन, ग्रूप बीमा, ग्रेच्युटी इत्यादि मुलभुत और कल्याणकारी सुविधाओं का कोई प्रावधान नहीं किया गया है.

प्रोन्नति, स्थानांतरण, सेवा निरंतरता जैसे गैर वितीय सुविधाएं भी सही तरीके से नहीं दी गयी है. सरकार के द्वारा वेतन वृद्धि की घोषणा महज छलावा है. संघ के सक्रिय कार्यकर्त्ता अविनाश कुमार यादव एवं अजमत नदाफ ने बिहार सरकार के इस दोहरी नीति की जमकर आलोचना की तथा सेवा शर्तो में सुधार करने तथा राज्य कर्मी का दर्जा देकर सहायक शिक्षकों की भांति सभी सुविधाएं प्रदान करने की मांग की अन्यथा आगामी बिहार विधानसभा चुनाव में सरकार को इसका खमियाजा भुगतने की चेतावनी दी.

वहीं अन्य वक्ताओं ने कहा कि सरकार द्वारा शिक्षकों के हित के लिये की गयी घोषणा को सौगात देकर बरगलाने का काम किया गया है, जिससे तमाम शिक्षकों में सरकार के प्रति नाराजगी व्याप्त है. सरकार को शिक्षकों की मांगों और अपनी घोषणाओं पर सहानुभूतिपूर्वक पुनर्विचार करनी चाहिये. मौके पर मौजूद शिक्षक संघ के सुरेंद्र पासवान, प्रभाष झा, प्रवीण कुमार, राधारमण साह, मो. रिजवान अहमद, कृष्ण कुमार, रंधीर कुमार, संतोष झा, हरिनाथ कुमार, बटोही राय, राजेश पासवान, जानकी देवी, मनोज कुमार, अनिल कुमार, शिवधारी लाल दास, इंद्रजीत कुमार, कृष्ण कन्हैया, अनिल प्रसाद मीनाक्षी कुमारी व गिन्नी कुमारी सहित दर्जनों संघीय प्रतिनिधियों ने भी संबोधित कर सरकार के रवैये के प्रति आक्रोश व्यक्त किया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!