जिला में नौवीं की विद्यार्थियों नें मास्क लगाकर दी परीक्षा रखा जा रहा कोविड19 का पुरा ध्यान

बिहार मे 26 फरवरी से नौवीं की परीक्षा शुरू हो गया है।एसे मे मधुबनी जिला के विद्यार्थीयों द्वारा कोरोना महामारी का पुरा ख्याल रख कर परीक्षा देते नजर आया है।कोरोना महामारी के बीच नौंवी वोर्ड की परीक्षा विभिन्न हाईस्कूलों में शुक्रवार से शुरू हुई। प्रथम दिन प्रथम पाली में विज्ञान और दूसरी पाली में गणित विषय की परीक्षा हुई।

परीक्षा को लेकर छात्रों में उत्साह था। विद्यालयों में छात्र मास्क पहनकर आये थे। विद्यालय प्रशासन द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया गया। छात्रों को पहली बार परीक्षा में ओएमआर सीट को भरना पड़ा। इसके लिए पूर्व में ही ट्रेनिंग दी गई थी। परीक्षा पहली बार दसवीं बोर्ड के पैटर्न के आधार पर ली गयी। परीक्षा के लिए ओएमआर और प्रश्न पत्र बोर्ड कार्यालय पटना से भेजा गया था। हरलाखी के बेता परसा उतक्रमित हाई स्कूल की छात्रा रंजना कुमारी, संगीता कुमारी ने बतायी कि कोरोना को लेकर पढ़ाई बाधित हुई। मगर विद्यालय के शिक्षकों ने विशेष कक्षा ले कर इसकी भरपाई करने में मदद की।

ADVERTISEMENT

वहीं उतरा हाईस्कूल की छात्रा अनिता कुमारी ने कहा कि बोर्ड की परीक्षा में शामिल होने पर काफी खुशी हो रही है। बीईओ विमला देवी ने बतायी कि पूरे प्रखंड में 4307 छात्र परीक्षा में शामिल हुए हैं। सभी छात्र मास्क पहनकर परीक्षा में बैठे है। परीक्षा से पूर्व विद्यालय का सैनेटाइज किया गया था।खुटौना प्रखंड के छह हाई स्कूलों में शुक्रवार से नौवीं की बोर्ड परीक्षा शुरू हो गयी । इन स्कूलों में कुल 2006 विद्यार्थी परीक्षा दे रहे हैं जिनमें 944 लड़कियां हैं । हाई स्कूल खुटौना के प्रभारी हैडमास्टर महेश प्रसाद साहु का कहना है कि उपके स्कूल में कुल 564 विद्यार्थी परीक्षा दे रहे हैं जिनमें लड़कियों की संख्या 289 है ।सोशल डिस्टेंस बना कर हरलाखी इलाके के हाईस्कूलों में नौवीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा शुरू कराई गई। सामाजिक दूरी बनाने के लिए परीक्षा कक्ष में एक बेंच पर दो छात्रों को बैठने की जगह दी गई है। सभी छात्रों को परीक्षा के दौरान मास्क का व्यवहार अनिवार्य कर दिया गया है।

ADVERTISEMENT

सैनेटाजर के प्रयोग के बाद छात्र—छात्राओं को परीक्षा देने के लिए बैठाया गया। परीक्षा के बाद स्कूल में ही उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन किया जाएगा। पास, फेल और अनुपस्थित छात्र—छात्राओं की सूची बिहार विद्यालय परीक्षा समिति पटना को भेजी जाएगी।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: