सदन में जर्जर तार व पोल बदलने को लेकर विधायक ने उठाया मुद्दा

बिहार में बिजली के क्षेत्र में बेहतर उत्पादन पर सरकार के पक्ष में रखी बात

हरलाखी : बिहार विधानसभा सत्र के दौरान बिजली पर बात रखते हुए सदन में स्थानीय विधायक सुधांशु शेखर ने कहा विद्युत आपूर्ति क्षेत्र में बिहार सरकार ने बेहतर कार्य कर उल्लेखनीय वृद्धि किया है। जिससे लोगों के घर घर बिजली की आपूर्ति हो रही है। सितंबर 2018 में 5139 मेगावाट बिजली उत्पादन हो रहा था। जो बढ़कर 2019 में 5819 व वितीय वर्ष जुलाई 2020 में बढ़कर 5932 मेगावाट पहुंच गई। उत्पादन के क्षेत्र में लखीसराय में 250 व पीरपैंती में 250 मेगावॉट का सौर ऊर्जा परियोजना ऊर्जा का लक्ष्य रखा गया है। जो राज्य के विकास में मील का पत्थर साबित होगा। वही बक्सर में सतजल विद्युत से उत्पादन शुरू कर बिहार को 85 फिशदी बिजली आपूर्ति का लक्ष्य रखा गया है। एनटीपीसी द्वारा ओरंगाबाद नवीनगर में निर्माणाधीन तीन इकाई में प्रथम इकाई का उत्पादन शुरू हो चुका है। जिससे 515 मेगावॉट बिजली मिलनी शुरू हो चुकी है।

ADVERTISEMENT

2014 में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा था कि अगर घर घर तक बिजली नही पहुंचा तो चुनाव नही लड़ूंगा। आज स्थिति यह है कि शहर या गांव गांव तक 22 घण्टे बिजली भरपूर मिल रही है। 2005 के पहले ट्रांसफार्मर जल जाने पर बदलने के लिए महीनों लग जाते थे, लेकिन अब 24 घण्टे के भीतर विभाग ट्रांसफार्मर बदल रही है। बिल में सुधार के लिए अब तक पूरे बिहार में एक करोड़ 6 हजार 773 स्मार्ट प्रीपेड मीटर लगाया जा चुका है। हर घर बिजली पहुंचाने के लिए सुदूर गांव गांव तक मुफ्त बिजली दिया जा रहा है।

ADVERTISEMENT

उन्होंने यह भी कहा कि हरलाखी विधानसभा क्षेत्र के मधवापुर प्रखंड के साहर दक्षिणी पंचायत के नायक टोल व कबाड़ी टोल एवं हरलाखी प्रखंड के कलना पंचायत अंतर्गत कुंडल मढिया, बलवा टोल में जर्जर बिजली का तार पोल बदलने की आवश्यकता है। इसलिए विभाग से आग्रह है कि समस्या को जल्द से जल्द दूर कर निर्वाध बिजली की आपूर्ति करे।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: