जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना के स्वेच्छाचारिता के विरुद्ध संस्कृत शिक्षक करेंगे आमरण अनशन

हरलाखी : जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना के स्वेच्छाचारिता के विरुद्ध 24 मार्च से सभी संस्कृत शिक्षक आमरण अनशन करने की घोषणा किया है। अनशन कार्यक्रम स्थापना पदाधिकारी कार्यालय के बाहर होगा। उक्त बातें जिला संस्कृत प्राथमिक व माध्यमिक शिक्षक संघ के सचिव सह भारती संस्कृत उच्च विद्यालय के प्रभारी प्रधानाध्यापक गिरीश कुमार मिश्र ने प्रेसवार्ता के दौरान स्पष्ट की।

ADVERTISEMENT

उन्होंने स्पष्ट किया कि जिला में राज्य के 531 कोटि के संस्कृत विद्यालयों में 79 प्राथमिक, मध्य व उच्च विद्यालय प्रस्वीकृत हैं। इन विद्यालयों में 15 फरवरी 2011 के बाद नियुक्त कर्मियों की संख्या लगभग 73 है। इन सबों की नियुक्ति वेतनमान के आधार पर हुई। जिन्हें सरकार भूतलक्षी प्रभाव से नीयत वेतन में परिणत कर दिया। जो मामला अभी न्यायालय में प्रक्रियाधीन है। बिहार सरकार शिक्षा विभाग के संकल्प संख्या 798 के आधार से 5 मार्च 2019 के प्रभाव से नवीन वेतन संरचना के आधार पर नए दर से वेतन देने का निर्णय लिया गया।

ADVERTISEMENT

इस संबंध में त्वरित कार्यान्वयन निर्देश के बावजूद 5 माह हम सबों के वेतन का निर्धारण हुआ। बिहार सरकार शिक्षा विभाग संकल्प संख्या 985 के द्वारा 1 अक्टूबर 2020 के प्रभाव से ईपीएफ स्कीम से आच्छादित करने का निर्देश के बावजूद जिला कार्यालय के लापरवाही के कारण हम सभी इस लाभ से अभी तक वंचित हैं। करीब 9 करोड़ से अधिक की राशि वापस हो रही है। लेकिन हम सभी का अन्तरवेतन का भुगतान नहीं किया जा रहा है। जबकि अन्तरवेतन भुगतान में अधिक से अधिक 2 करोड़ की राशि ही खपत होगी। अतः हम सभी का 5 मार्च 2019 से 31 अक्टूबर तक के अन्तरवेतन का भुगतान नहीं किया जायेगा तब तक आमरण अनशन जारी रहेगा।

ADVERTISEMENT

अनशन कार्यक्रम स्थापना पधाधिकारी कार्यालय के बाहर 24 मार्च से शुरू होगा। इस बीच अनशन पर बैठे कर्मियों के साथ किसी भी तरह के अनहोनी की जिम्मेवारी कार्यालय के लिपिक व पदाधिकारियों की होगी। उन्होंने सभी संस्कृत विद्यालयों के शिक्षक, शिक्षकेतरकर्मीयों, विद्यालय प्रवन्ध समिति के सदस्यों एवं संस्कृत प्रेमियों से इस आंदोलन में सहयोग करने की अपील की है।

ADVERTISEMENT

प्रेसवार्ता में संघ के जिलाध्यक्ष धर्मेन्द्र कुमार मिश्र, उपाध्यक्ष राघवेंद्र झा, कोषाध्यक्ष सुनील कुमार मिश्र, संयुक्त सचिव सन्तोष कुमार, प्रदीप कुमार, सुमन मिश्र, सोनकुमार झा, भोगेन्द्र राय, कमलेश कुमार व अमित कुमार सहित कई लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: