त्योंथ पंचायत के वार्ड 4 में नल जल योजना का उद्घाटन होने के महीनों बाद भी नही निकला एक बूंद पानी

ग्रामीणों में नाराजगी व्याप्त

फोटो :- बेनीपट्टी के त्योंथ पंचायत के वार्ड में बना नल जल का स्ट्रक्चर

बेनीपट्टी : मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना प्रखंड में लूटखसोट योजना में तब्दील होकर रह गयी है. सरकार और प्रशासनिक महकमे की दबिश के कारण आनन फानन में दर्जनों अधूरी पड़ी योजनाओं को भी कागजों पर पूरी दिखाकर उद्घाटन करा दिया गया और योजना की राशि निकाल ली गयी. इन योजनाओं की उच्चस्तरीय जांच करायी जाये तो करोड़ो की सरकारी राशि का लूटखसोट का मामला उजागर हो सकता है.

ADVERTISEMENT

लेकिन सरकार की इस सर्वाधिक महत्वाकांक्षी योजनाओं में गड़बड़ी की तमाम शिकायत मिलने के बावजूद अधिकारी फाइलों पर कुंडली मार बैठे हैं. लिहाजा अब तक कागजों पर पूरी दिखा व उद्घाटन कर जलापूर्ति होने की रिपोर्ट भेजी गयी योजनाओं की एक चौथाई योजनाओं से भी लोगों को नल का जल मयस्सर नही हो पा रहा है. ताजा मामला त्योंथ पंचायत के वार्ड चार स्थित खनुआटोल का है, जहां 18 लाख 47 हजार 817 रुपये की लागत से नल जल योजना के तहत स्ट्रक्चर निर्माण कराया गया, कुछ घरों में किसी तरह नल की टोंटी भी लटका दिया गया और पाइप बिछाकर आनन फानन में करीब चार महीने पहले उद्घाटन भी करा दिया गया.

लेकिन उद्घाटन के बाद से अब तक उससे एक बूंद जल नही निकल सका है. अब भी कई घरों में नल नही लगाये गये हैं. जो पाइप बिछाये गये हैं वह भी कई जगहों से टूटने लगी है. कई घरों में लगे नल भी टूटने के कगार पर पहुंच चुके हैं. ग्रामीण विशेश्वर महतो, सुजीत कुमार, सविता देवी, निर्मला देवी, बतहू महतो, छोटू कुमार महतो, वैद्यनाथ महतो, राजकुमार महतो, राम पुकार महतो, दुलारी देवी, विक्रम कुमार, रामजतन महतो व कमलदेव महतो सहित अन्य ग्रामीणों ने कहा कि मुखिया, वार्ड सदस्य और अधिकारी सब मिलकर योजना की राशि का बंदरबांट कर लिया और अधूरी योजना को कागजों पर पूरी दिखाकर उद्घाटन कर दिया.

ADVERTISEMENT

लोगों को पानी मिल रहा है या नही इससे किसी को कोई मतलब नही रहा. ये सब मिलकर अपनी जेब भर रहे हैं और सरकार को बदनाम कर रहे हैं. अब पंचायत चुनाव की डुगडुगी बजने वाली है. ऐसे में सवाल उठता है कि योजना पूरी हुए अधिकारी आखिर कैसे एमबी बुक कर राशि की निकासी करवा दिये और जनता को भगवान भरोसे छोड़ दिया. राजकुमार महतो सहित कुछ ग्रामीणों ने तो यह भी कहा कि हमलोगों ने अपने घर में नल लगाने का आग्रह किया तो वार्ड सदस्य ने यह कहते हुए इनकार कर दिया कि आप लोगों का घर बोरींग के निकट है. इसलिए आपलोगों के घर में नल नही लगाया जायेगा. वहीं वार्ड सदस्य मंजू देवी के पति गणेश महतो ने कहा कि उद्घाटन के दौरान जेनरेटर से बोरींग चालू किया गया था लेकिन लोड नही लेने के कारण नियमित रूप से पानी की आपूर्ति नही हो पा रही है.

मुखिया अनिता देवी से पूछे जाने पर उनके पति जागेश्वर यादव ने कहा कि बिजली कनेक्शन में तकनीकी गड़बड़ी की वजह पर्याप्त वोल्टेज नही मिल पाता है, जिसके कारण बोरींग नही चल पा रहा है. जबकि जेइ प्रीति कुमारी ने बताया कि हमने 19 मार्च को योगदान लिया है लेकिन उससे पहले ही एमबी बुक कराये जा चुके थे. इस संबंध में हमें अधिक जानकारी नही है. अभी हम परीक्षा ड्यूटी में व्यस्त हैं. परीक्षा के बाद भौतिक जांच करेंगे. उसके बाद ही इस संबंध में कुछ बता सकेंगे.

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: