मधुबनी के अधिकारी और कर्मी नें चलाएगा अभियान, तम्बाकू मुक्त जिला बनाने का लिया संकल्प

मधुबनी जिला को तम्बाकू मुक्त बनाने के लिए अधिकारी और कर्मी अभियान चलाएंगे। इसके लिए कई दलों का गठन किया गया है। इससे पहले मधुबनी जिला धूम्रपान मुक्त जिला घोषित हो चुका है। इसको सख्ती से लागू करवाने के लिए विभागीय पदाधिकारी और प्रशासनिक पदाधिकारी संयुक्त रूप से अभियान चलाएंगे।

कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में एडीएम अवधेश राम की अध्यक्षता में तंबाकू नियंत्रण पर जिला स्तरीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यपालक निदेशक दीपक मिश्रा ने पावर पॉइंट प्रजेंटेशन के माध्यम से बताया कि राज्य सरकार एवं सीड्स द्वारा संयुक्त रूप से राज्य के सभी 38 जिलों में चलाए जा रहे तम्बाकू नियंत्रण कार्यक्रम के अंतर्गत तम्बाकू नियंत्रण अधिनियम कोटपा—2003 की विभिन्न धाराओं के बारे में विस्तार से बताया।

ADVERTISEMENT

एडीएम ने समस्त ज़िला वासियों से अपील करते हुए कहा कि हमलोगों को अपने जिले को तम्बाकू मुक्त जिला बनाने की मुहिम शुरू करनी है, ताकि हमारी आने वाली पीढ़ियों को तम्बाकू के दुष्प्रभावों से बचाया जा सके। उन्होंने बताया कि धूम्रपान करना एक खतरनाक आदत है जहां छोटे—छोटे बच्चे हैं वहां तो स्थिति और भी अधिक नाजुक बन जाती है। डीडीसी अजय कुमार सिंह ने कहा कि इस अभियान को सफल करने के लिए और अधिक प्रयास करनी होगी।

ADVERTISEMENT

सिविल सर्जन डॉ सुनील कुमार झा ने कार्यशाला में उपस्थित सभी प्रतिभागियों के स्वागत किया। तथा तंबाकू नियंत्रण के जिला नोडल पदाधिकारी डॉक्टर एस पी सिंह ने धन्यवाद ज्ञापन किया।कार्यक्रम में एसीएमओ, सभी अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, जिला शिक्षा पदाधिकारी, जिला नोडल पदाधिकारी, डॉ.एस पी सिंह, मनोज कुमार झा, लक्ष्मी कांत झा आदि थे।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: