कल्याणेश्वर पहुंचा मिथिलाधाम की मध्यमा परिक्रमा, मिथिला बिहारी व किशोरी जी को देखने उमड़ी भीड़

हरिणे में ग्रामीणों ने कराया बाल भोजन, पोतगाह में दिया चूरा गुड़ व दवा

साढ़े तीन बजे प्रसिद्ध कल्याणेश्वर महादेव स्थान पहुंचे श्रीराम व जानकी

हरलाखी : मिथिलाधाम की ऐतिहासिक मध्यमा परिक्रमा यात्रा रविवार को कल्याणेश्वर पहुंचा। यात्रा की विधिवत शुरुआत हो चुकी है। नेपाल के कचुरीधाम से निकली मिथिला बिहारी व किशोरी जी की डोला रविवार की दोपहर करीब साढ़े तीन बजे कल्याणेश्वर महादेव स्थान पहुंचकर रात्रि विश्राम किया।

ADVERTISEMENT

सबसे आगे लाल झंडा के साथ मिथिला बिहारी का डोला जिसके पीछे पिला झंडा के साथ किशोरी जी का डोला का भारतीय सीमा में प्रवेश करते ही भगवान मिथिला बिहारी एवं किशोरी जी की दर्शन करने के लिए स्थानीय लोगों का हुजूम जुटने लगा। भारतीय सीमा में आते ही सबसे पहले हरिणे गांव में सुबह का बाल भोजन किया गया। जहां ग्रामीणों ने यात्रा में शामिल सभी श्रद्धालुओं को महाप्रसाद खिलाया विदा किया गया। इसके डोला पोतगाह गांव में रुकी जहां ग्रामीणों ने भगवान के दर्शन के बाद सभी श्रद्धालुओं को चुरा गुंड़ व दवा देकर विदा किया। जिसके बाद डोला मांगपट्टी गांव होते हुए कल्याणेश्वर स्थान पहुंची। जहां लोगों ने पुष्प वर्षा कर स्वागत किया।

ADVERTISEMENT

जहां पुजारी कृष्णकुमार ठाकुर, हिरा ठाकुर, पप्पू ठाकुर सहित स्थानीय लोगों ने भगवान श्रीराम व किशोरी जी की डोला का भव्य स्वागत किया। डोला के साथ हजारों की संख्या में श्रद्धालु कल्याणेश्वर महादेव मंदिर के इर्दगिर्द रात्रि विश्राम किया। आज सुबह पूजापाठ कर डोला गिरजा स्थान फुलहर पहुंचेगी। फुलहर के बाद मटिहानी के लिए मंगलवार को फुलहर से रवाना होगी।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: