खिरहर में धरासायी हुआ नल जल योजना का जलमीनार, भ्रष्टाचार का खुला पोल

स्थानीय लोगों ने कार्य में अनियमितता का आरोप लगाते हुए किया जांच की मांग

घटना में बाल बाल बचे खेल रहे 7 से 8 बच्चे

हरलाखी : सीएम सात निश्चय योजना के तहत सूबे में चलाए जा रहे जन कल्याणकारी नल जल योजना लगातार विवादों में है। जिसमे अनियमितता उजागर होना शरू हो गया है। योजना के के तहत किए गए कार्यों में अनियमितता दिखना शुरू हो गया है।

ADVERTISEMENT

गौरतलब है कि प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत खिरहर पंचायत के वार्ड नंबर 11 में नल जल योजना के तहत जलमीनार बनाया गया है। इस जलमीनार के ऊपर 5 हजार लीटर की दो पानी टंकी रखना था। परंतु फिलहाल एक टंकी को रखकर उसमे पानी भरा गया।

ADVERTISEMENT

पानी भरते ही टंकी चतरे को फाड़कर निचे गिर गया। टंकी के गिरने से जलमीनार के निचले भाग में बनाए गए चदरे का घर पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त हो गया। जलमीनार के नजदीक स्थित आवासीय घर में भी काफी क्षति हुई है। खासकर घटना में जलमीनार के नीचे खेल से 7 से 8 बच्चे की जान बच गई। हालांकि चपेट में आने से एक पशु जख्मी बताये गए है। जिससे स्थानीय लोगों में आक्रोश व्याप्त है।

ADVERTISEMENT

ग्रामीणों ने सोशल मीडिया के माध्यम से इस मामले को जोर-शोर से उठाना शुरू कर दिया है। जलमीनार के नजदीक रहने वाले लोगों ने बताया कि कार्य में अनियमितता के कारण जलमीनार के ऊपर से पानी का टंकी गिरा है। स्थानीय दीपक कुमार, सावित्री देवी, रघुवीर दास, दुलारी देवी, राजकुमार दास सहित कई लोगों ने बताया कि जलमीनार निर्माण में व्याप्त भ्रष्टाचार किया गया है।

ADVERTISEMENT

जिससे जलमीनार क्षतिग्रस्त हुआ है। दो टंकी की क्षमता वाले जलमीनार पर एक टंकी भरते ही गिरकर क्षतिग्रस्त हुआ है। ग्रामीणों ने वरीय अधिकारीयों से मामले की जांच कर दोषी व्यक्ति के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है। वही घटना की सूचना मिलते ही जेएसएस शत्रुघ्न राम ने घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जांच किया। श्री राम ने कहा कि वार्ड कमिटी के लापरवाही से इस तरह की घटना हुई है। जांच रिपोर्ट विभाग को सौप कर विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी।

ADVERTISEMENT

मामले को लेकर पूछने पर मुखिया विकास मिश्रा ने बताया कि जांच के दौरान टंकी गिरी है। जिसे शीघ्र दुरुस्त कर दिया जायेगा। वहीं वार्ड सदस्य शिवशंकर चौधरी ने बताया कि संवेदक के लापरवाही से तकनीकी कारणों से टंकी गिरी है।

ADVERTISEMENT

इस बावत बीडीओ अरविंद कुमार सिंह ने बताया कि स्थानीय पदाधिकारी को घटना की जांच कर रिपोर्ट भेजने के निर्देश दिए गए है। घटना में दोषी पाए जाने वाले व्यक्ति पर कानूनी कार्रवाई की जायेगी।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: