पूर्व गणित के शिक्षक शिक्षाविद उचित नारायण यादव (90) का निधन

बिस्फी : प्रखंड क्षेत्र के नाहस खंगरैठा उच्च विद्यालय के पूर्व गणित के शिक्षक शिक्षाविद उचित नारायण यादव (90) का निधन सोमवार को अपने निवास स्थान कलुआही के गांव राढ़ में बीते सोमवार को हो गई।

वे विद्यालय के स्थापना काल से 38 वर्षो तक विद्यालय में अपनी सेवा दी।साथ ही अवकाश प्राप्त करने के बाद भी नाहस खंगरैठा गांव में रहकर छात्र एवं छात्राएं को निःशुल्क शिक्षा देते रहे।उनके निधन के बाद उनके पार्थिव शरीर प्रखंड क्षेत्र के सिमरी,दुबियाही,रुपौली,नाहस,खंगरैठा सहित दर्जनों गांव होते हुए मंगलवार को नाहस खंगरैठा उच्च विद्यालय लाया गया।जंहा उनका अंतिम समाधि हुआ।उनके अंतिम दर्शन के लिए हजारो की संख्या में लोगो की भीड़ इकट्ठा हो गई।वर्ष 1994 में अवकाश प्राप्त करने के बाद से उन्होंने लगातार नाहस खंगरैठा गांव में रहकर शिक्षादान का काम कर रहे थे।

गणित एवं अंग्रेजी सहित कई भाषाओं के प्रकांड विद्धवान के साथ साथ गांधीवादी विचार धारा के थे।वे अपने पीछे भरा पूरा परिवार छोड़ चले है।उनके बड़े पुत्र सुरेंद्र नारायण सुमन प्रोफेसर के पद पर है।

जबकि दूसरा पुत्र सामाजिक कार्यकर्ता तथा तीसरा पुत्र पूर्णेन्दु प्रसाद शिक्षक है।श्री यादव के निधन से पूरे प्रखंड क्षेत्र शोक की लहर है।उनके निधन पर पूर्व विधायक डा.फैयाज अहमद ,नुरचक के पैक्स अध्यक्ष विष्णुदेव यादव ,उच्च विद्यालय के शिक्षक फैयाज अहमद,अमित कुमार,मध्य विद्यालय के उषा कुमारी,दिनेश यादव,बिभा देवी,अवकाश प्राप्त शिक्षक शिवशंकर राय,डा.विजयचंद्र घोष ,डा. रामवतार रमण ,रामनारायण यादव ,हीरालाल राय ,पीतांबर प्रसाद ,लालबाबू अकेला ,महेश यादव ,बालबोध यादव ,माधव यादव ,नवल यादव, सुशील कुमार यादव ,सीपीआई के प्रेमचंद्र झा, मिथिलेश झा सहित कई लोगो ने शोक संवेदना व्यक्त की है।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: