गायब युवक का 7 दिन बाद पोखरौनी के एक तालाब किनारे मिला शव

शव गांव पहुंचते ही परिजनों में प्रशासन के विरुद्ध फूटा आक्रोश

परिजनों के समर्थन में ग्रामीणों ने उमगांव बासोपट्टी सड़क को जाम कर दोषी के विरुद्ध कार्रवाई के साथ मुआवजे का किया मांग

11 फरवरी को दिल्ली से घर लौट रहा था युवक मधुबनी से ऑटो में बैठने के बाद हुआ था गायब

हरलाखी : थाना क्षेत्र के विटुहर गांव निवासी सीताराम राय के 40 वर्षीय पुत्र सुरेश राय का शव 7 दिन बाद गांव पहुंचते ही परिजन सहित ग्रामीणों में प्रशासन के विरुद्ध आक्रोश बढ़ गया। आक्रोशित परिजन व ग्रामीणों ने शव के साथ उमगांव-बासोपट्टी मुख्य सड़क को जामकर प्रशासन के विरुद्ध नारेबाजी करने लगे।

ग्रामीणों का कहना था कि जिस दिन युवक गायब हुआ था उसी दिन परिजन हरलाखी थाना में लिखित आवेदन देने गया था। लेकिन थानाध्यक्ष के द्वारा जीआरपी का मामला बता कर परिजनों को मधुबनी भेज दिया। थानाध्यक्ष के द्वारा तत्काल आवेदन पर कार्रवाई की जाती तो युवक का जान बचाया जा सकता था। गौरतलब है कि युवक 11 फरवरी की शाम करीब 6:30 बजे स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस से मधुबनी में उतरा और अपने गांव जाने के लिए कलना आ रहे एक ऑटो में बैठा। ऑटो में बैठने के बाद युवक ने अपनी पत्नी को फोन किया जो घर आने के लिए ऑटो में बैठ चुका हूं खाना बनाकर रखना। लेकिन 7 दिन बाद युवक का शव पोखरौनी के एक तालाब किनारे से बरामद हुआ।

शव मिलने के बाद रहिका पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सुपुर्द कर दिया। शव गांव पहुंचते ही परिजन व ग्रामीण सड़क को जाम कर दिया। इस संबंध में थानाध्यक्ष प्रेमलाल पासवान ने बताया कि मधुबनी टाउन थाना में घटना के विरुद्ध 3 दिन पूर्व ही अपहरण का मामला दर्ज किया जा चूका है। चुकि घटना के विरुद्ध एक मामला दर्ज किया जा चूका है इसलिए मामले की जांच कर अग्रिम कार्रवाई की जायेगी। समाचार भेजे जाने तक मृतक के परिजन शव के साथ सड़क जाम किया हुआ था।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: