BREKING : बैरवा गांव में मिट्टी खुदाई के दौरान मिला भगवान विष्णु की अष्टधातु मूर्ती, देखने के लिए उमड़ा लोगों की भीड़

पूर्व मुखिया मो. लतीफ राइन घर बनाने के लिए मजदूरों से खेत मे कटवा रहा था मिट्टी, मजदूर देख हुए भौचक्क

मूर्ति निकलने की खबर आग के तरफ फैली, देखने के लिए उमड़ा हजारों की भीड़

बैरवा में मिट्टी खुदाई में मिली विशाल मूर्ति, देखने के लिए जुटी भीड़

मधवापुर : प्रखंड के बलवा पंचायत अंतर्गत बैरवा गांव में उस समय कौतूहल का माहौल कायम हो गया, जब दो मजदूर घर बनाने के लिए खेत से मिट्टी काटने के दौरान अष्टधातु की मूर्ति मिला। जिसे तत्काल ग्रामीणों के सहयोग से बगल के ब्रह्म स्थान में रखा गया है। जिसे देखने के लिए हजारों लोगों की भीड़ इक्कठा हो गई।

ADVERTISEMENT

प्राप्त जानकारी के अनुसार पूर्व मुखिया मो. लतीफ राइन अपने सड़क किनारे जमीन पर भूसा का घर बनाने के लिए गांव के ही दो मजदूर हिरजु पासवान, बौआ पासवान व पुत्र मो. सिकन्दर के साथ घर भरने के लिए उसी खेत से मिट्टी कटवा रहा था। करीब एक फ़ीट की गहराई पर कुदाल पत्थल से टकराया। इसके बाद मजदूरों ने खोदना शुरू किया। ऊपर से लग रहा था कि कुछ पत्थल है। लेकिन वो पत्थल विशाल था। करीब 10 लोगों के सहयोग से उस पत्थल को जब पलटा गया तो देखा कि किसी भगवान का मूर्ति है। उसे लोगों के सहयोग से उठाकर बगल के ब्रह्म बाबा स्थान पर ले जाकर पानी से धुलाई किया तो भगवान विष्णु के स्वरूप की मूर्ति नजर आई। जिसे ग्रामीणों के सहयोग से तत्काल ब्रह्म बाबा स्थान में रखकर पूजा अर्चना शुरू किया गया।

ADVERTISEMENT

करीब 5 क्विंटल वजन का मूर्ति क्षेत्र में बना चर्चा का विषय

खुदाई के दौरान मिली यह मूर्ति करीब 5 क्विंटल के वजन का बताया जा रहा है। हालांकि यह अष्टधातु का है या किसी अन्य पत्थल का, वो पुष्टि पुरातत्व विभाग के द्वारा जांच के बाद ही पता चलेगा।

ADVERTISEMENT

जानकारी देते हुए मजदूर हिरजु पासवान, बौए पासवान, ग्रामीण मनोज पासवान, सहदेव पासवान व हीरा शर्मा समेत लोगों ने बताया कि इसे एक चमत्कार के रूप में कह सकते है। जमीन के मात्र एक फिट से भी कम जमीन के नीचे यह मूर्ति बरामद हुआ है। मूर्ति देखने से भगवान विष्णु का लग रहा है। जिसे उठाकर हमलोगों ने स्थान पर रख दिया है। हम ग्रामीण आपसी बैठक कर सहमति बनाकर इसके स्थापना पर निर्णय लेंगे।

ADVERTISEMENT

जैसे ही मूर्ति मिलने की खबर आम हुई है। वैसे ही खबर आग की तरह गांव अथवा पंचायत के अलावे इलाके में फैल गई। जिसके बाद महिलाएं, युवा, बुजुर्ग व बच्चों की हजारों भीड़ देखने के लिए इक्कठा हो गई। मूर्ति की एक झलक पाने को स्थानीय लोग बेताब दिखे। मूर्ति मिलने से इलाके में तरह तरह की चर्चाएं चल रही है।

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: