ब्राम्हण महासभा ने कहा महमदपुर हत्याकांड में दोषी बचे नही और निर्दोष फसे नही, पुलिस रखे ध्यान

बेनीपट्टी : थाना के गैवीपुर में रविवार को परशुराम सेवा संघ सह राष्ट्रीय ब्राम्हण महासभा की टीम पहुंचकर महमदपुर हत्याकांड के पुरे घटनाक्रम के संबंध में जानकारी ली. ऐसी घटना किस वजह से हुई इस संबंध में जानकारी प्राप्त की. टीम में शामिल संघ के प्रदेश अध्यक्ष जितेंद्र मिश्र ने पत्रकारों से कहा होली के दिन हुए हत्याकांड की घटना झकझोर देने वाली और दुःखद है. उक्त घटना की जितनी भी निंदा की जाय, बहुत कम होगी. हम पीड़ित परिजनो के साथ हैं और उन्हें न्याय मिलना चाहिये. लेकिन उस आपराधिक घटना की आड़ में जातीय रंग कतई नही दिये जायें.

बेनीपट्टी के गैवीपुर में लोगों से मिलतें परशुराम सेवा संघ सह राष्ट्रीय ब्राम्हण महासभा के प्रदेश अध्यक्ष व अन्य

उन्होंने कहा कि कई दिनों से देख रहे हैं कि घटना को जातीय रंग दिया जा रहा है. कुछ उपद्रवी तत्व जातीय विद्रोह पैदा कर लोगों को आपस में लड़ाना चाह्ते हैं. लेकिन ब्राम्हण महासभा ऐसा कभी होने नही देगी. उन्होनें कहा कि हत्याकांड के आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा मिलें, यह ब्राम्हण महासभा भी चाह्ती है. इस हत्याकांड की जांच और कार्रवाई में दोषी बचे नही और निर्दोष फंसे नही के नीति को ध्यान में रखते हुए पुलिस पूरी निष्पक्षता के साथ कार्य करे. उन्होंने यह भी कहा कि जब यहां आकर देखा और पूरी कहानी सुना तो काफी दुःख हुआ. विवाद वर्षों पूर्व से रहा है और वर्चस्व का विवाद है. इस कांड में दर्ज प्राथमिकी के संबंध में स्थानीय लोगों से मिली जानकारी के अनुसार कई निर्दोषों का नाम भी अंकित होने की बातें सामने आ रही है, जो कहीं से भी उचित नहीं हैं. अगर मामले में कोई निर्दोष का नाम अंकित है तो पुलिस छानबीन कर उसे हटाने की पहल करे.

ADVERTISEMENT

उन्होंने यह भी कहा कि आखिर माता पिता का क्या दोष है, जो उनका नाम प्राथमिकी में देकर जेल भेज दिया गया. कोई भी माता पिता अपने पुत्र को गोली चलाकर किसी की हत्या करने की इजाजत शायद नही देंगे. आरोपी के घर कुर्की जब्ती की गयी, अच्छी बात है, लेकिन जो आरोपी के हिस्से में था भी नही पुलिस उस संपति की भी कुर्की आखिर किस आधार पर की, यह समझ से परे है. उन्होंने कहा कि निर्दोष का नाम प्राथमिकी से हटाने के लिये पहल किया जायेगी.

ADVERTISEMENT

टीम में जिलाध्यक्ष विपिन कुमार झा, सुपौल के जिलाध्यक्ष मुन्ना चमन, दिनेश कुमार झा, आनंद ठाकुर, आशुतोष दुबे, रौशन झा सहित अन्य लोग भी शामिल थे.

ADVERTISEMENT

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: