BENIPATTI : ये है वो तालाब जिसने एक ही घर के बुझाये तीन चिराग

विवादित तालाब दो गांवों के दो समुदायों के आधे-आधे हिस्से में है

बेनीपट्टी के गैवीपुर स्थित विवादित तालाब

बेनीपट्टी : थाना के महमदपुर गांव में जिस तालाब को लेकर हिंसक झड़प हुई वह दो गांवों के दो समुदायों के लोगों का बताया जा रहा है. गांव के लोगों के द्वारा बताया जा रहा है कि करीब दो एकड़ में फैला तालाब गांव वाला पोखर के नाम से जाना जाता है. त्योथ पंचायत के पौआम और गैवीपुर गांव के लोगों के आधे-आधे दो हिस्से में बंटा है.

ADVERTISEMENT

तालाब के आधे हिस्से पर पौआम गांव के यादव समाज और आधे पर गैवीपुर के ब्राह्मण समाज का स्वामित्व बताया जा रहा है. यादव समाज के लोगों ने अपने हिस्से का भाग महमदपुर गांव के सुरेंद्र सिंह के पुत्र संजय सिंह के हाथों मछली पालन के लिये मछुआ सोसाइटी के माध्यम से बेच दी है, जबकि शेष बचे आधे भाग को भी ब्राह्मण समाज के लोग भी तीन वर्षों के लीज पर संजय सिंह के हाथों ही बेच रखे हैं. लीज को दो वर्ष की अवधि भी पूरी हो चुकी है.

आरोपित पक्षो के द्वारा जबरन मछली मारने को लेकर दोनों पक्षों के बीच आये दिन विवाद होता रहा है. मतलब संजय सिंह के तीन भाई अर्थात सुरेंद्र सिंह के तीन पुत्रों की मौत इस गोलीकांड में हो चुकी है.

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: