BENIPATTI : मास्क का प्रयोग और सोशल डिस्टेंस मेंटन करने में अब भी लापरवाही बरत रहे हैं लोग

प्रबुद्धजनों ने मास्क वितरण और सार्वजनिक स्थलों को सेनेटाइज कराने की उठायी मांग

बेनीपट्टी : प्रखंड के किसी भी पंचायतों में अब तक मास्क वितरण और सार्वजनिक स्थलों को सेनिटाइज नही कराने को लेकर प्रबुद्धजनों में सरकार और प्रशासन के खिलाफ नाराजगी व्याप्त है. विभिन्न राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं और प्रबुद्धजनों ने सरकार और प्रशासन से अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कोरोना महामारी से बचाव को लेकर एहतियात के तौर पर अविलंब मास्क वितरण कराने और हाट, बस पड़ाव, थाना, प्रखंड कार्यालय परिसर सहित अन्य सार्वजनिक स्थलों को सेनिटाइज कराने की मांग की है.

बेनीपट्टी के महमदपुर में लगे हाट में बिना मास्क व सोशल डिस्टेंस मेंटन किये खरीद बिक्री करते लोग

मांग करनेवालों में शामिल सामाजिक कार्यकर्ता विनोद शंकर झा, लोकनाथ झा, राजद के विजय कुमार यादव, भाकपा के अंचल मंत्री आनंद कुमार झा, माकपा के पवन कुमार भारती, प्रबुद्धजन नागेंद्र झा, जयराम साह, जिप सदस्य शोभा भारती व बसैठ पंचायत के जदयू पंचायत अध्यक्ष फिरण चौधरी, सहित अन्य लोगों ने कहा कि मास्क वितरण करने और सार्वजानिक स्थलों को सेनिटाइज कराने की घोषणा राज्य सरकार द्वारा आठ दिन पहले किये जाने के बावजूद अब तक धरातल पर कोई कार्य नही दिख रहे हैं. बस आदि में यात्रियों के द्वारा सोशल डिस्टेंस का कोई ख्याल नही रखा जा रहा है. जबकि रोजाना हो रहे सैंकड़ों लोगों की कोरोना जांच में तकरीबन दो दर्जन लोगों को संक्रमित होने का सिलसिला जारी है और यह आंकड़ा दिनोदिन बढ़ता ही जा रहा है. जिससे संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ता ही जा रहा है.

ADVERTISEMENT

मंगलवार को पीएचसी में कुल 129 लोगों की कोरोना जांच की गयी. जिसमें एंटीजन से 85 व आरटीपीसीआर से 50 की जांच हुई जिसमें 18 लोग पोजेटिव पाये गये. इसके अलावे बसैठ मध्य विद्यालय पर भी जांच शिविर लगायी गयी थी, जिसका आंकड़ा खबर भेजे जाने तक नही मिल सका था. उधर अन्य कई लोगों ने यह भी कहा कि दूसरे प्रदेशों से आनेवाले लोगों की जांच की व्यवस्था नही करने और सीधे घर जाने की खुली छूट देकर संक्रमण को दावत दी जा रही है. 18 अप्रैल को सीएम द्वारा कोरोना से बचाव को लेकर मास्क वितरण व सेनेटाइज कराने आदि की अधिकांश घोषणाएं अब तक घोषणा तक ही सिमट कर रह गयी है. इन घोषणाओं का त्वरित कार्यान्वयन नही होना प्रशासन की लचर रवैये का परिचायक प्रतीत होता है. इन सभी तथ्यों को जिला प्रशासन को गंभीरता से लेने की जरूरत है अन्यथा स्थिति भयावह होने से इनकार नही किया जा सकता. अब तक अकेले बेनीपट्टी प्रखंड में संक्रमितों की संख्या दो सौ के पार पहुंच चुका है.

ADVERTISEMENT

हालांकि सोमवार से प्रखंड कार्यालय में कोविड कंट्रोल रूम की स्थापना कर दी गयी है, जहां लोग इससे संबंधित जानकारी आदान प्रदान कर सकते हैं. उधर अधिकारियों से मास्क वितरण करने के बारे में पूछे जाने पर बताया जा रहा है कि जिला प्रशासन के द्वारा मास्क उपलब्ध कराया जायेगा तब तो वितरण किया जा सकेगा. फिलहाल सभी परिवारों का सर्वेक्षण किया जा रहा है. सर्वेक्षण के उपरांत आंकड़ा ऑनलाइन लोड किया जायेगा. इसके बाद डोंगल के जरिये भुगतान कर मास्क की खरीद की जा सकेगी. जबकि राज्य सरकार द्वारा पहले ही स्पष्ट किया जा चुका है कि उक्त सामग्रियों की खरीद 15 वीं वित्त आयोग मद से की जानी है. वहीं अब भी विभिन्न हाट बाजारों में बिना मास्क लगाये और सोशल डिस्टेंस मेंटन किये लोग खरीदारी करने में मशगूल दिख रहे हैं.

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: